in

कोरोना और ब्लैक फंगस का डबल अटैक, 20 घंटे इलाज के बाद महिला ने दम तोड़ा

रोहतक। जहाँ एक और कोरोना से लोग मर रहे थे वही अब लंबे समय से डायबिटीज पीड़ित मरीजों पर अब कोरोना और ब्लैक फंगस का डबल अटैक हो रहा है। इसी बीच ब्लैक फंगस का शिकार एक महिला की सोमवार को पीजीआई में मौत हो गई। मर्तक महिला को कुछ दिन पहले ही ब्लैक फंगस का शिकार होने के बारे में पता लगा था। जिसके लिए पीजीआई के ईएनटी विभाग में रविवार को उनकी सर्जरी की जानी थी।

चिकित्सकों ने सर्जरी का सामान मंगाकर तैयारी शुरू कर दी थी के ऐन वक्त पर महिला की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव होने का पता चला। इसके बाद सर्जरी को टाला गया और मरीज को ट्रामा सेंटर में शिफ्ट किया गया। जिसके बाद वहां पर 20 घंटे उपचार के बाद महिला मरीज की मौत हो गई। अभी तक की प्राथमिक रिपोर्ट में माना जा रहा है कि मरीज की मौत कोरोना से हुई है।

वहीं शहर के गांधी कैंप निवासी 52 वर्षीय व्यक्ति को ब्लैक फंगस से पीड़ित पाया गया है। ईएनटी वार्ड में भर्ती करने से कराए गए कोविड टेस्ट में रिपोर्ट पॉजिटिव आई। डॉक्टरों ने उसे ट्रामा सेंटर के लिए रेफर कर दिया। ईएनटी वार्ड के चिकित्सकों ने लगातार केस बढ़ने का दावा किया है।

This post was created with our nice and easy submission form. Create your post!

What do you think?