in

कोरोना मरीजों के लिए लॉन्च की 'संजीवनी' परियोजना, पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर करनाल से शुरुआत की गई

करनाल। कोरोना के चलते दुनिया बेहद परेशान है और इसी को देख हरियाणा सरकार ने एक बड़ा कदम लिया है। जी हाँ, कोरोना मरीजों के लिए सरकार ने  संजीवनी परियोजना लॉन्च की है। सोमवार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से परियोजना की शुरुआत की। पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर इसे करनाल से शुरू किया गया है। इसके साथ ही योजना उन ग्रामीण क्षेत्रों में चिकित्सा देखभाल का विस्तार करेगी, जहां वायरस की दूसरी लहर के फैलने और इस बीमारी के इलाज के बारे में जागरूकता कम है।

यहां पर आपको बता दे की सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि इस ‘संजीवनी योजना’ के जरिए कोविड-19 के हल्के से मध्यम लक्षणों वाले मरीजों की देखभाल उनके घर पर ही की जाएगी। इससे उन्हें इलाज के लिए घर से नहीं निकलना होगा और न ही अस्पताल जाना पड़ेगा व  इससे अस्पतालों पर दबाव भी कम होगा। सरकार का मानना है कि देखभाल करने से 90 प्रतिशत से अधिक रोगियों का घर पर ही इलाज किया जा सकता है।

इस योजना से आपको कई लाभ मिलेंगे। जैसे, अस्पतालों में बिस्तरों की उपलब्धता, ऑक्सीजन की आपूर्ति, एंबुलेंस ट्रैकिंग और घर-घर जागरूकता अभियान जैसे महत्वपूर्ण संसाधनों के प्रबंधन के लिए एक एकीकृत कमान और नियंत्रण केंद्र प्रदान करेगी।

This post was created with our nice and easy submission form. Create your post!

What do you think?