in

जाने हिसार के सुभाष चंद्र के जीवन से जुडी यह बातें

हरियाणा की जानी मानी हस्तियों में जहां आपने खिलाड़ियों, अभिनेताओं, आदि को देखा हैं वही आप यहां सफल व प्रसिद्ध व्यापारियों को देख सकते है। दसरे शब्दों में कहे तो हरियाणा ने भारत देश को सफल व्यापरी भी दिए हैं, जिन्होंने तरक्की के रास्तो पर एक जीत हासिल की।

अब यदि हम बात करे हरियाणा के सुभाष चंद्र के बारे में तो इसमें को शक नहीं की यह नाम काफी जाना माना हैं। आज इस लेख में हम बात करेंगे सुभाष चंद्र के जीवन से जुडी कुछ अहम बातो के बारे में।

1. प्रारंभिक जीवन

सुभाष चंद्र हरियाणा का एक जाना माना नाम है व बात करें उनके जन्म की तो उनका जन्म हरियाणा के हिसार जिले में 30 नवंबर 1950 को हुआ था। इसके साथ उनको बचपन से ही पढ़ाई लिखाई में कोई खास रुचि नहीं थी व वह हमेशा से ही व्यवसाय करना चाहते थे। व्यवसायी कुल में पैदा होने की वजह से उनका सपना बस व्यवसाय स्थापित करना ही था।

2. सुभाष चंद्र के करियर की शुरुआत

अब बात करें यदि सुभाष चंद्र के करियर की तो इसमें कोई शक नहीं कि छोटी सी उम्र में ही उन्होंने खूब मेहनत करनी शुरू कर दी थी। वह मात्र 19 साल के थे जब उन्होंने वेजिटेबल ऑयल बनाने की यूनिट लगाई और कारोबार शुरू कर दिया था। इसके साथ ही वह चावल का व्यापार करने लगे और फिर वह आनाज एक्सपोर्ट के व्यवसाय में लग गए।

इसी के साथ उन्होंने 1981 में पैकेजिंग एग्जिबिशन के दौरान पैकेजिंग कंपनी बनाई और धीरे-धीरे वह सबसे सफल ब्रॉडकास्टिंग के व्यवसाय पर आ गए। 2 अक्टूबर 1992 में उन्होंने ज़ी टीवी के नाम से भारत का पहला प्राइवेट सेटेलाइट चैनल शुरू किया।

जिसके बाद उन्होंने बहुत से जी के चैनल बनाएं और सफलता प्राप्त की। यहां आपको बता दें कि, ज़ी टीवी नेटवर्क के शुभारंभ में उन्होंने वर्ष 1995 में सिटी केबल शुरू किया और फिर 2 नए चैनल जी न्यूज़ और ज़ी सिनेमा भी बनाए। इसके साथ ही वर्ष 2003 में उन्होंने डीटीएच (डायरेक्ट टू होम) सेवा शुरू की।

3. सुभाष चंद्र को मिले अवॉर्ड्स

सुभाष चंद्र ने अपने जीवन में खूब सफलता हासिल की और भारत के सबसे आमिर आदमियों में से एक बन गए। इसी के साथ उन्होंने अपने देश के लोगो के लिए भी बहुत कुछ किया हैं। अब यदि बात करे उनको मिले अवार्ड्स की तो उन्हें अंतर्राष्ट्रीय एमी निदेशालय पुरस्कार (2011) व कनाडा इंडिया फाउंडेशन, चंचलानी ग्लोबल इंडियन अवार्ड के साथ नवाज़ा गया हैं।

4. सुभाष चंद्र का परिवार 

सुभाष चंद्र का एक अच्छा व शिक्षित परिवार है। उनकी पत्नी का नाम सुशीला देवी हैं। इसी के साथ उनके दो बेटे भी है जिनका नाम पुनीत गोयंका व अमित गोयंका हैं। पुनीत गोयंका कंपनी के प्रबंध निदेशक और सीईओ हैं। डॉ. चंद्रा के दूसरे बेटे, अमित गोयनका कंपनी के अंतरराष्ट्रीय प्रसारण व्यवसाय के सीईओ हैं।

This post was created with our nice and easy submission form. Create your post!

What do you think?