Friday, 17 September, 2021

BREAKING

दूध दही का खाना ये म्हारा हरियाणा !!News - Information - Entertainment

पंजाब में 6वें दिन भी सरकारी बसों का चक्का जाम:कॉन्ट्रैक्ट कर्मचारियों की हड़ताल जारी; मंगलवार को CM से बैठक, हल न निकला तो हाईवे जाम का ऐलान

पंजाब में कॉन्ट्रैक्ट कर्मचारियों की हड़ताल की वजह से 6वें दिन भी सरकारी बसों का चक्का जाम है। हालांकि बस स्टैंड खुला रहेगा। जिन सवारियों को प्राइवेट बसों से कहीं जाना है, वे बस स्टैंड से बसों में सवार हो सकते हैं। कॉन्ट्रैक्ट कर्मचारी अपने डिपो के बाहर प्रदर्शन करेंगे। सबसे अहम बात यह है कि कॉन्ट्रैक्ट कर्मचारियों की 14 सितंबर दिन मंगलवार को CM कैप्टन अमरिंदर सिंह से चंडीगढ़ में बैठक है। उस दिन हल निकला तो ठीक है अन्यथा कर्मचारियों ने हाईवे जाम करने की चेतावनी दे दी है। ऐसे में अगर सरकार ने फिर देरी की तो सरकारी बसें बंद होने से पहले ही परेशान आम लोगों की मुश्किलें और बढ़ सकती हैं।

पहले भी गन्ना किसानों के मामले में सरकार ने रेट बढ़ाने में करीब 5 दिन लगा दिए और इसकी वजह से सड़क व रेल यात्रियों को भारी परेशानी झेलनी पड़ी थी। पंजाब रोडवेज, पनबस कॉन्ट्रैक्ट कर्मचारी यूनियन के जिला प्रधान गुरप्रीत सिंह ने कहा कि इस बार वह सरकार के झांसे में नहीं आएंगे। जब तक मामला हल नहीं होता, सरकारी बसों का चक्का जाम रहेगा। सरकार पुख्ता हल निकाले तो ही वे काम पर लौटेंगे। यूनियन कहां व कौन सा हाईवे जाम करेगी? इसको लेकर मंगलवार को सरकार से बैठक के बाद ऐलान किया जाएगा। लोगों की परेशानी पर माफी मांगते हुए उन्होंने कहा कि सब सरकार के हाथ में है। वह तुरंत हल निकालकर बसें चलवा सकती है।

पढ़िए .. अब तक क्या-क्या हुआ

सरकार व कर्मचारियों में बने टकराव के आसार

सरकारी बसों का चक्का जाम होने से कैप्टन सरकार की खूब किरकिरी हो रही है। पंजाब विधानसभा चुनाव में 5 महीने रह गए हैं। ऐसे में सरकार की महिलाओं को मुफ्त बस सफर की सुविधा नहीं मिल पा रही। वहीं, प्राइवेट ट्रांसपोर्ट माफिया को लेकर सरकार पर आरोप भी बढ़ते जा रहे हैं। इसे देखते हुए सरकार ने हड़ताली कर्मचारियों को काम पर लौटने के नोटिस भेजे हैं। बसें न चलाने पर उनका कॉन्ट्रैक्ट रद्द करने की चेतावनी दी गई है। वहीं, यूनियन भी अपने रवैये पर अडिग है कि बार-बार के झूठे भरोसे के बजाय वे इस बार अंतिम फैसला लेकर ही रहेंगे। हालांकि नोटिस व कर्मचारियों के वेतन का क्या होगा? इसके बारे में अभी कुछ स्पष्ट नहीं है।

Scroll to Top