in

पढ़िए हरियाणा के ओम प्रकाश जिंदल के जीवन से जुडी यह बाते

हरियाणा के जाने माने नामों में से एक है ओम प्रकाश जिंदल व उन्होंने अपने जीवन में काफी सफलता हासिल की है व देश के लिए बहुत कुछ किया है। सरल शब्दों में कहें तो वह एक बहुत ही प्रसिद्ध व सफल व्यवसाई है, जिन्होंने अपनी जिंदगी में अपार सफलता हासिल की है।

आज इस लेख में हम बात करने जा रहे है ओमप्रकाश जिंदल के जीवन से जुड़ी कुछ तथ्यों के बारे में। उम्मीद है आपको यह लेख अच्छा लगेगा। तो बिना किसी देरी के चलिए इस लेख के साथ।

1. ओमप्रकाश जिंदल का जन्म

ओमप्रकाश जिंदल का नाम हरियाणा व भारत देश का बच्चा-बच्चा जानता है। यदि बात करें उनके जन्म की तो उनका जन्म 7 अगस्त 1930 को हरियाणा के हिसार जिले में हुआ था। इसके साथ ही आपको बता दें कि उन्हें ओपी जिंदल के नाम से भी जाना जाता है। ओमप्रकाश जिंदल की पत्नी का नाम सावित्री जिंदल है। इसके साथ ही उनके चार बेटे है पृथ्वीराज जिंदल, सज्जन जिंदल, रतन जिंदल, और नवीन जिंदल।

2. व्यवसाय व उद्योग

ओम प्रकाश जिंदल ने अपने जीवन में व्यवसाय व उद्योग को लेकर काफी सफलता हासिल की है। उन्होंने एक सफल व्यावसायिक उद्यम जिंदल स्टील एंड पावर की स्थापना की, जिसके वे अध्यक्ष थे। फिलहाल उनका यह सफल व्यवसाय उनके चारों बेटे चलाते हैं।

3. पॉलिटिक्स ओर मंत्री पद

जिंदल ने न सिर्फ अपने व्यवसाय में सफलता हासिल की थी बल्कि वह मंत्री पद पर भी काफी सफलता पाए हुए थे। जी हां, जिंदल को हरियाणा सरकार ने बिजली मंत्री नियुक्त किया था व इसके साथ ही आपको बता दे कि उन्होंने हरियाणा के हिसार जिले की विधानसभा सीट से लगातार तीन बार जीत हासिल की थी। इसके अलावा 1996 से 1997 तक जिंदल खाद्य, नागरिक आपूर्ति और सार्वजनिक वितरण समिति के सदस्य भी रहे थे।

4. ओम प्रकाश जिंदल की मृत्यु

अपनी जिंदगी में काफी सफलता हासिल करने के बाद उनकी मृत्यु 31 मार्च 2005 को हुई थी जब वह 74 साल के थे। यहां आपको बता दें कि जिंदल फरवरी 2005 में हरियाणा विधानसभा के लिए चुने गए थे और उनकी मृत्यु के समय वह हरियाणा सरकार में बिजली मंत्री थे।

5. अवॉर्ड्स

इसमें कोई शक नहीं की ओमप्रकाश जिंदल ने एक सफल व्यवसाय कायम किया। यहां यदि बात करे उनको मिले अवॉर्ड्स कि तो उनको नवंबर 2004 में बंगाल चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री, द्वारा भारतीय इस्पात उद्योग में उनके सफल योगदान के लिए प्रतिष्ठित “लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड” से सम्मानित किया गया था।

इसके अलावा उनका नाम भारतीय सबसे अमीर व्यक्तियों में 13वे स्थान पर और दुनिया में सबसे अमीर व्यक्तियों में 548 वे स्थान पर आता था। वाकई वह एक सफल उद्यमी थे ।

This post was created with our nice and easy submission form. Create your post!

What do you think?