Friday, 17 September, 2021

BREAKING

दूध दही का खाना ये म्हारा हरियाणा !!News - Information - Entertainment

बेसुध पड़ा मिला संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हुआ शख्स:कोर्ट मैरिज करने वाला रजत 2 महीने बाद बंधा हुआ मिला, शरीर पर चोट के निशान, पुलिस पूछताछ में बोला- उसे बंद कमरे में रखा

कोर्ट मैरिज करने के बाद 15 जुलाई शाम को संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हुआ दहिया माजरा निवासी रजत चौधरी शुक्रवार को धनौरा-टंगैल मार्ग पर बेसुध पड़ा मिला। युवक के हाथ पीछे की तरफ बंधे हुए थे। बताया जा रहा है कि एक कार रजत को गांव धनौरा के पास छोड़ कर गई है। राह चलते लोगों ने जब युवक को देखा तो उन्होंने तुरंत मुलाना पुलिस को सूचना दी। लोगों ने पहले युवक को पानी पिलाया ओर फिर जब युवक से उसके बारे में पूछा तो उसने अपने आपको दहिया माजरा का रहने वाला बताया। मुलाना थाना प्रभारी चंद्रभान मौके पर पहुंचे ओर उन्होंने बराड़ा पुलिस को बुलाकर युवक को उनके हवाले कर दिया।

बता दें कि रजत के पिता विक्रम सिंह ने 5 लोगों पर रजत को अगवा करने का आरोप लगाकर इस मामले की शिकायत बराड़ा थाने में दर्ज करवाई थी। बराड़ा पुलिस ने इस मामले में धारा 365 के तहत मामला दर्ज किया था। बराड़ा पुलिस अब इस मामले की जांच में जुट गई है कि आखिर रजत दो महीने किसी गिरफ्त में रहा। हालांकि पुलिस की प्रारंभिक पूछताछ में रजत ने बताया है कि उसे एक कमरे में सुदर्शन रखा गया था। जब उसने किडनैपर्स से पूछा कि उसे क्यों रखा हुआ है तो कहते थे कि समय आने पर बता देंगे।

यह दी थी विक्रम सिंह ने शिकायत
पुलिस को दी शिकायत में विक्रम सिंह ने बताया था कि दहिया माजरा निवासी सुरेश कुमार की भांजी हरमन देवी अक्सर दहिया माजरा गांव में आती जाती थी। उसका लड़का रजत व हरमन एक दूसरे को चाहने लगे थे और दोनों ने उसे बिना बताए 26 मई 2021 को कोर्ट मैरिज कर ली थी। विक्रम सिंह ने आरोप लगाया था कि हरमन का मामा सुरेश कुमार, रामकुमार, मामा का लड़का वीरेंद्र, पिता सुखदर्शन सिंह व ताऊ सुखबीर सिंह हरमन की शादी की वजह से उसके परिवार के साथ रंजिश रखने लगे थे।

इन लोगों ने उन्हें कई बार धमकाया भी था। 4 जुलाई को 10-12 लोगों ने उस पर हमला भी किया था। 15 जुलाई को शाम साढ़े 4 बजे रजत घर से कहीं गया था। लेकिन वापस नहीं लौटा तो विक्रम सिंह ने 5 लोगों पर रजत को अगवा करने का आरोप लगाकर शिकायत बराड़ा पुलिस को दी थी। 19 जुलाई को बराड़ा पुलिस ने 5 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया था।

शादी वाले दिन से ही मायके में पत्नी
रजत के पिता विक्रम चौधरी ने बताया कि शादी के दिन ही हरमन अपने घर चली गई थी। उसने उस वक्त एक शपथ पत्र भी बनवाया था। जिसमें उसने कहा था कि वह इस शादी को लेकर अपने परिजनों को राजी करने का प्रयास करेगी और अगर परिजन राजी नहीं हुए तो रजत उसे वहां से लेकर आ सकता है। विक्रम चौधरी ने बताया कि तभी से हरमन अपने मायके में है।

Scroll to Top