in

ब्लैक फंगस का खतरा, 52% मरीजों को बिना ऑक्सीजन ही हुआ ब्लैक फंगस

हरियाणा में कोरोना के साथ साथ ब्लैक फंगस भी आ चुका है व यह अब लोगो के लिए खतरा बनता जा रहा है। इसकी वजह कोरोना मरीजों को ज्यादा स्टेरॉयड देने और ठीक से ऑक्सीजन सप्लाई न होना बताया जा रहा है। इसके साथ ही कमजोर इम्युनिटी और शुगर के मरीजों को भी ब्लैक फंगस के चपेट में आने की बात कही जा रही हैं। इसी बीच यदि बात करे ब्लैक फंगस के आकड़ो की तो प्रदेश में 413 मरीजों में 110 मरीज (26.63 प्रतिशत) को कोरोना होने पर भी कभी स्टेराॅयड नहीं दिया गया।

जबकि, 51.57 प्रतिशत को ऑक्सीजन नहीं दी गई। यहां चौकाने वाली बात यह है की ब्लैक फंगस के 15.49 प्रतिशत ऐसे मरीज हैं, जिन्हें कभी कोरोना नहीं हुआ और 19.12 प्रतिशत मरीज डायबिटीक भी नहीं हैं। इसीलिए अब स्वस्थ्य मंत्री अनिल विज ने ब्लैक फंगस के फैलने की वजह पर रिसर्च कराने की बात कही है।

This post was created with our nice and easy submission form. Create your post!

What do you think?