Friday, 17 September, 2021

BREAKING

दूध दही का खाना ये म्हारा हरियाणा !!News - Information - Entertainment

भास्कर फॉलोअप:कंपनी काे स्टाफ बढ़ाना था, किया उलट- न्यू फेब्रिकेटेड ट्रांसपोर्ट व्हीकल की फिटनेस जांचनी बंद कर दी; खत्म होगा एग्रीमेंट!

झज्जर रोड के वाहन पासिंग सेंटर में दलाली नेटवर्क पर भास्कर के खुलासे के बाद प्रशासन एक्शन लेने के मोड में आ गया है। गुरुवार को डीसी कैप्टन मनोज कुमार ने आरटीए सचिव से इस पूरे प्रकरण पर रिपोर्ट मांगी है। जिला परिवहन अधिकारी ने भी इस बारे में रिपोर्ट तलब की है। वहीं दूसरी ओर गुरुवार सुबह भास्कर की खबर का असर पासिंग सेंटर पर भी देखने को मिला। सुबह से ही पासिंग सेंटर पर फिटनेस टेस्ट कराने के लिए आने वाले वाहनों को टोकन नंबर के जरिए वीडियोग्राफी कराने के साथ ही अंदर प्रवेश दिया गया।

डीटीओ कम आरटीए सचिव डॉ. संदीप गोयत ने पासिंग सेंटर के इंचार्ज सहित स्टाफ कर्मियों से जवाब तलब किया। पासिंग सेंटर के स्टाफ ने पारदर्शितापूर्ण तरीके से वाहनों की पासिंग करने का दावा किया। लेकिन आरटीए सचिव डॉ. संदीप ने स्टाफ पर नाराजगी जताई। उन्होंने आरटीए के चार इंस्पेक्टर की निगरानी में ही वाहनों की फिटनेस टेस्ट कराने के आदेश जारी किए। इधर, दलालों का कोड वर्ड जानने के लिए आईटी एक्सपर्ट का सहारा लिया जाएगा।

निजी कंपनी कर रही नियमों की अनदेखी

डीटीओ कम आरटीए सचिव डॉ. संदीप गाेयत ने बताया कि परिवहन विभाग की ओर से पासिंग सेंटर के संचालन के लिए अधिकृत की गई निजी कंपनी का स्टाफ विभाग की ओर से जारी किए आदेशों की अनदेखी कर रहा है। जनवरी माह में एडिशनल ट्रांसपोर्ट कमिश्नर की अध्यक्षता में हुई मीटिंग में पासिंग सेंटर में निजी कंपनी को स्टाफ बढ़ाने, फेब्रिकेटेड वाहनों की फिटनेस टेस्ट, सीट का इंस्पेक्शन करने सहित अन्य बिंदुओं को पूरा करने के लिए कहा गया था। लेकिन पिछले माह सेंटर स्टाफ ने बिना सूचना दिए न्यू फेब्रिकेटेड ट्रांसपोर्ट व्हीकल की फिटनेस जांचने का काम बंद कर दिया गया। इन लापरवाहियों को संज्ञान में लेकर ट्रांसपोर्ट कमिश्नर को पत्र लिखकर निजी कंपनी का एग्रीमेंट समाप्त करने के लिए कहा है।

Scroll to Top