in

मानसून की तैयारियों की जांच के लिए गुरुग्राम में मॉक ड्रिल


गुरुग्राम: गुरुग्राम में मानसून के मौसम के दौरान अंडरपास में जलभराव से बचने के लिए, गुरुग्राम मेट्रोपॉलिटन डेवलपमेंट अथॉरिटी (जीएमडीए) और भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) की टीमों ने संयुक्त रूप से गुरुग्राम के हीरो होंडा चौक और राजीव चौक पर एक मॉक ड्रिल का आयोजन किया है।

जीएमडीए के इंफ्रास्ट्रक्चर-द्वितीय डिवीजन के मुख्य अभियंता प्रदीप शर्मा ने बुधवार को कहा कि प्राधिकरण ने मानसून के मौसम से पहले सभी गुरुग्राम अंडरपास में जल निकासी व्यवस्था की जांच के लिए मॉक ड्रिल का आयोजन किया.

उन्होंने कहा कि इसी तरह का मॉक ड्रिल शहर के अन्य अंडरपास और राजीव चौक, इफको चौक, सिग्नेचर टावर, शंकर चौक और सुभाष चौक जैसे शहर के प्रमुख स्थानों पर किया जाएगा. यदि कोई कमी है तो उसे मानसून सत्र से पहले दूर कर लिया जाएगा।

जीएमडीए के अधीक्षण अभियंता राजेश कुमार बंसल ने कहा कि शहर में जलजमाव की समस्या न हो इसके लिए जीएमडीए हर स्तर पर गंभीरता से काम कर रहा है.

उन्होंने बताया कि विकास प्राधिकरण के सीईओ सुधीर राजपाल की पहल से बादशाहपुर नाले के 33 मीटर पर वर्षों से चल रहे विवाद को भी सुलझा लिया गया है. इस विवाद के समाधान के बाद मौजूदा 800 क्यूसेक से 2300 क्यूसेक की पूरी क्षमता से पानी निकालना संभव होगा और इससे दिल्ली-जयपुर एक्सप्रेस-वे पर हीरो होंडा चौक के पास बड़ी राहत मिलेगी.

What do you think?