Friday, 17 September, 2021

BREAKING

दूध दही का खाना ये म्हारा हरियाणा !!News - Information - Entertainment

राम रहीम ने HHRC से रखी ‘डिमांड’:दाढ़ी को काला रखने की है तमन्ना, जेल प्रशासन ने नहीं दी अनुमति; अब मानवाधिकार आयोग के चेयरमैन जस्टिस एसके मित्तल से लगाई गुहार

हरियाणा की रोहतक जिला जेल में उम्रकैद की सजा काट रहा गुरमीत राम रहीम अपनी सफेद हो चुकी दाढ़ी से परेशान है। उसने जेल प्रशासन से दाढ़ी रंगने की परमीशन मांगी लेकिन नहीं मिली। जिसके बाद अब राम रहीम ने हरियाणा मानवाधिकार आयोग से अनुमति मांगी है। जिसपर फैसला आना अभी बाकी है। राम रहीम अपनी इस मांग को लेकर एक बार फिर चर्चा का विषय बन गया है। इससे पहले दिल्ली में चेकअप के लिए जाने के दौरान लोगों से मिलवाने का मामला भी खासा विवाद में रहा था।

आपको बता दें कि डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह 4 साल से साध्वियों से दुष्कर्म और डेरे के खिलाफ खबरें छापने वाले पत्रकार रामचंद्र छत्रपति की हत्या के मामले में सजा काट रहा है। मेडिकल जांच और इमरजेंसी पैरोल पर राम रहीम को तीन-चार बार जेल से बाहर भी ले जाया जा चुका है, लेकिन अभी तक नॉर्मल पैरोल नहीं मिल सकी है। राम रहीम कभी खेती करने तो कभी बीमार मां का हवाला देकर पैरोल की अर्जी लगा चुका है। लेकिन हर बार अर्जी खारिज हो जाती है। हाल ही में गुरमीत राम रहीम के लिए 15 अगस्त पर उनके जन्मदिन पर ग्रीटिंग कार्ड और रक्षाबंधन पर अनुनायियों ने हजारों राखियां भी भेजी थी।

जेल से चिट्ठी लिखी जाती है-वाहेगुरु ने चाहा तो जल्द होऊंगा आपके बीच
पता चला है कि गुरमीत राम रहीम बीच-बीच में अपने अनुनायियों के नाम पत्र भी लिखता रहता है। लगभग हर चिट्ठी में यही होता है कि वाहेगुरु ने चाहा तो जल्‍द ही आपके बीच होऊंगा, मगर ये आरजू अभी तक पूरी नहीं हो सकी है। राम रहीम ने कोरोना काल में भी कोविड निमयों का पालन करने के लिए एक पत्र अपने समर्थकों के नाम लिखा था। राम रहीम को जब भी जेल से बाहर लाया जाता है तो चप्‍पे-चप्‍पे पर पुलिस मौजूद रहती है।

3 सितंबर को जेल के दौरे पर आए थे जस्टिस मित्‍तल
3 सितंबर को यहां हरियाणा मानवाधिकार आयोग के चेयरमैन जस्टिस एसके मित्तल ने जेल का निरीक्षण किया था। उस दौरान गुरमीत राम रहीम सिंह ने अपनी दाढ़ी कलर करने की मांग उठाई। राम रहीम का कहना है कि जेल प्रशासन से इस संबंध में कई बार गुहार लगाई जा चुकी है, मगर अनुमति नहीं दी जा रही। मजबूर होकर अब मानवाधिकार आयोग के संज्ञान में यह मसला लाना पड़ा। हालांकि अभी मानवाधिकार आयोग की तरफ से भी इस पर कोई फैसला नहीं आया है।

VIP गेस्ट से मिलाने पर महम DSP हो चुके हैं निलंबित
रामर हीम की मेडिकल जांच के लिए पिछले दिनों एम्स दिल्ली में ले जाया गया था। कड़ी सुरक्षा में ले जाने का दावा किया गया था, लेकिन बाद में खुलासा हुआ कि सुरक्षा की जिम्मेदारी महम DSP शमशेर सिंह दहिया को सौंपी गई थी, उन्होंने बीच रास्ते में VIP गेस्ट को गुरमीत से मिलवाया था। इस पूरे प्रकरण की जांच की गई तो DSP दहिया को निलंबित किया गया। अब महम में DSP महेश कुमार जिम्मेदारी संभाल रहे हैं।

Scroll to Top