in

हरियाणा के उपमुख्यमंत्री श्री दुष्यंत चौटाला ने बताया कि हरियाणा देश का पहला राज…


हरियाणा के उपमुख्यमंत्री श्री दुष्यंत चौटाला ने बताया कि हरियाणा देश का पहला राज्य है जिसने ‘प्रधानमंत्री ग्रामीण सडक़ योजना’ के फेज-1 व फेज-2 के अंतर्गत आवंटित सारा कार्य पूरा कर लिया है। यही नहीं इस योजना के तहत फेज-थ्री के थर्ड-बैच को सबसे पहले अप्रूवल मिली है, इससे पहले मार्च 2021 में इस योजना के फेज-टू को भी देश में सबसे पहले अप्रूवल मिला था।
उपमुख्यमंत्री ने यह जानकारी आज यहां ‘हरियाणा ग्रामीण सडक़ एवं आधारभूत विकास एजेंसी’ की छठी कार्यकारी समिति की बैठक की अध्यक्षता करने के बाद दी। इस बैठक में हरियाणा के लोक निर्माण (भवन एवं सडक़ें) विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव एवं ‘हरियाणा ग्रामीण सडक़ एवं आधारभूत विकास एजेंसी’ के उपाध्यक्ष श्री आलोक निगम, उपमुख्यमंत्री के ओएसडी श्री कमलेश भादु के अलावा अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।
डिप्टी सीएम, जो ‘हरियाणा ग्रामीण सडक़ एवं आधारभूत विकास एजेंसी’ के अध्यक्ष भी हैं, ने बताया कि हरियाणा राज्य ने केंद्र सरकार की ‘प्रधानमंत्री ग्रामीण सडक़ योजना’ के फेज-1 के अंतर्गत 426 सडक़ों व फेज-2 के अंतर्गत 88 सडक़ों व 18 पुलों का निर्माण पहले ही पूरा कर लिया है।
बैठक में जानकारी दी गई कि ‘प्रधानमंत्री ग्रामीण सडक़ योजना’ के फेज-3 के बैच-2 के अंतर्गत 120 सडक़ों को मंजूरी दी गई है जिन पर कुल 549.51 करोड़ रूपए खर्च होंगे। इन सडक़ों की कुल लंबाई 1216.95 किलोमीटर है। इस योजना के तहत बनने वाली सडक़ों में अंबाला जिला की 9 सडक़ें, भिवानी जिला की 17 सडक़ें, फरीदाबाद जिला की 2 सडक़ें, फतेहाबाद जिला की 14 सडक़ें, हिसार जिला की 14 सडक़ें, जींद जिला की 3 सडक़ें, कैथल जिला की 7 सडक़ें, कुरूक्षेत्र जिला की 8 सडक़ें, महेंद्रगढ़ जिला की एक सडक़, पलवल जिला की 12 सडक़ें, पानीपत जिला की 11 सडक़ें, रोहतक जिला की 4 सडक़ें, सिरसा जिला की 7 सडक़ें, सोनीपत जिला की 11 सडक़ें शामिल हैं।




Source

What do you think?