in

हरियाणा के तीन ऐसे रूचि स्थान जो आपको जीवन में एकबार जरूर देखने चाहिए

वैसे तो भारत के सभी राज्य अपने आप में एक खास पहचान रखते है, पर यदि बात के हरियाणा कि तो बेशक यह राज्य अपने आप के बेहद खूबसूरती समेटे हुए है। यहां के खेल, यहां का खान पान, और यहां के लोगों के बीच का भाईचारा अपने आप में एक मिसाल है। इसी प्रकार यह देखे जाए तो बहुत सारे रुचि क्षेत्र भी है। आज हम बात करने जा रहे हरियाणा कि तीन ऐसे रुचि स्थानों की जहां आपको जीवन में एक बार जरूर जाना चाहिए। इन रुचि स्थानों के बारे में जानने के लिए आपको निम्नलिखित बिंदु पढ़ने चाहिए।

आशा करते है यह लेख आपके रुचि स्थल ढूंढने के लिए फायदेमंद होगा।

#1 सुल्तानपुर राष्ट्रीय उद्यान

हरियाणा में वैसे तो विभिन्न प्रकार के रुचि स्थल देखने को मिलते है पर सबसे पहले यदि हम बात करे सुल्तानपुर राष्ट्रीय उद्यान की तो यह हरियाणा के प्रचलित रुचि स्थल में से एक है।  बेहद व्यवस्थित ढंग से बनाया गया यह उद्यान काफी ही खूबसूरत और लुभाना लगता है।

गुड़गांव जिले में दिल्ली हवाई अड्डे से लगभग 34 किलोमीटर गुड़गांव फारुख रोड पर सुल्तानपुर राष्ट्रीय पक्षी अभ्यारण है। इस उद्यान की खोज या निर्माण पक्षी जैक्सन नामित ने कि थी अर्थात इस पक्षी अभ्यारण की खोज के लिए क्रेडिट पक्षी जैक्सन नामित पक्षी प्रेमी को जाता है।

यह यह अभयारण्य पक्षियों का बसेरा अत्यंत ही खूबसूरत है वे यहां एक प्राचीन झील भी पाई जाती है और एक सूचना के आधार पर इस विशाल प्राकृतिक झील में प्रत्येक वर्ष प्रजनन के लिए पक्षियों और साइबेरिया के लगभग 100 प्रजातियां लगभग 265 एकड़ जमीन में फैली हुई है। बेशक, आपको इस उद्यान या रुचि स्थल पर एक बार अवश्य आना चाहिए।

#2 तिलयार लेक

दूसरे नंबर पर यदि हम बात करें हरियाणा में पाए जाने वाले रुचि स्थल की तो हम नाम ले सकते हैं तिलयार लेक का जो रोहतक में है। तिलयार झील दिल्ली सीमा से 42 किलोमीटर दूर स्थित है जो कि पीरागढ़ी चौक दिल्ली से 55 किलोमीटर दूर है।

दूसरे शब्दों में कहें तो तिलयार झील हरियाणा के रोहतक जिले में स्थित है तिलयार झील 132 एकड़ में फैली हुई है और यह देखने में वाकई बहुत खूबसूरत लगती है। तिलयार झील आसपास क्षेत्र एकदम सही हरे बेल्ट बनाती है जी रोहतक शहर के करीब स्थित है।

इस झील की खासियत की बात करें तो यहां पर लोगों को प्रभावित करने के लिए काफी चीज़े है और दिल्ली के लोगों को सप्ताहांत बालियान और पिकनिक स्थल के रूप में आकर्षित करने के लिए यहां स्पार्कलिंग रेस्तरां और बार है, मिनी चिड़ियाघर जैसे टाइगर पैंथर हिरण पक्षी बंदर आदि जानवरों के साथ।

इसके साथ साथ यह अन्य बहुत सारी चीजें देखने को पाई जाती है जो कि बच्चों और बड़ों दोनों को आकर्षित करती है। यहां बच्चों के लिए खिलौना ट्रेन है व वयस्को के लिए एक छोटे से कोलंबस स्विंग नौकायान के लिए एक व्यापक झील और बैठने और खेलने आदि के लिए बड़े हरे रंग के लोन है।

निसंदेह यह स्थल काफी खूबसूरत है और जीवन में आपको एक बार अपने परिवार और बच्चों के साथ यहां आना चाहिए।

#3 गांधी संग्रहालय

वैसे तो हरियाणा अपने आप में अपने खेलो और अपने खानपान के लिए खास है परंतु जब बात आती है रूचि स्थल की तो यहां भी हरियाणा किसी से पीछे नहीं है अब नंबर 3 पर हम बात करते हैं गांधी संग्रहालय की जो की पलवल में स्थित है।

जी हां गांधी संग्रहालय पलवल रेलवे स्टेशन के नजदीक है। गांधी संग्रहालय के इतिहास की बात करें तो रोलेट एक्ट के खिलाफ पंजाब जाते हुए महात्मा गांधी को पलवल रेलवे स्टेशन पर 10 अप्रैल 1919 को गिरफ्तार किया गया था। उनकी याद को नजर रखते हुए नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने 2 अक्टूबर 1938 को नींव रखी थी।

गांधी सेवाश्रम में 1962 में गांधी प्रदर्शनी को स्थापित किया गया। इसमें गांधी जी से संबंधित इतिहास को संजोया गया व इसके लिए चित्र दिल्ली के गांधी संग्रहालय से लाए गए थे। बाद में जब यह चित्र खराब होने लगे तो इनका नवीकरण कराया गया तथा प्रदर्शनी स्थल को बदलकर संग्रहालय कर दिया गया।

बेशक ज्ञान और इतिहास से भरा यह संग्रहालय भी देखने लायक हैं और आपको अपने पूरे जीवन में एक बार इसको जरुर देखना चाहिए।

This post was created with our nice and easy submission form. Create your post!

What do you think?