in

हरियाणा में पिछले 7 महीने में कराई गई रजिस्ट्रियों से सरकार को 1288 करोड़ अधिक आय हुई

कोरोना के चलते जिले में लोकडाउन लगा दिया गया जिस दौरान घर बैठे हरियाणा के लोगों ने जमीन जायदाद में अधिक दिलचस्पी दिखााई है। जी हाँ, पिछले 7 माह में तुलनात्मक रुप से प्रदेश में 70248 अधिक रजिस्ट्रियां हुई हैं। बात करे यदि अप्रैल माह की तो अकेले अप्रैल 2021 में 53679 रजिस्ट्रियां हुई हैं, जबकि पिछले साल अप्रैल में महज 1715 रजिस्ट्रियां हुई थी। ऐसे में सरकार को 7 माह में रजिस्टर्ड डॉक्यूमेंट्स से 1288 करोड़ रुपए अधिक की आमदनी हुई है।

हालांकि मई के प्रथम सप्ताह में आंकड़ा काफी कम रहा है, क्योंकि प्रदेश में लॉकडाउन लग गया था। ऐसे में सरकार ने साफ तौर से कहा है कि लॉकडाउन में रजिस्ट्रियां बंद नहीं हैं व तहसीलों में रजिस्ट्रियां होती रहेंगी, ताकि आमदनी का जरिया बना रहे। अधिकारियों के अनुसार, अप्रैल 2020 से सितंबर 2020 तक प्रदेश में कोरोना के कारण आय में 1000 से 1200 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है।

This post was created with our nice and easy submission form. Create your post!

What do you think?

-1 Points
Upvote Downvote