in

हरियाणा सरकार द्वारा प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों को शहरी तर्ज पर 24 घंटे बिजली म…


हरियाणा सरकार द्वारा प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों को शहरी तर्ज पर 24 घंटे बिजली मुहैया करवाने के उद्देश्य से ‘म्हारा गांव जगमग गांव’ योजना को आगे बढ़ाते हुए 18 मई, 2021 को 17 और नए गांवों को इस योजना में शामिल किया गया है। जिसमें सोनीपत के 9 गांव (रतनगढ़, जाट माजरा, चिताना, भटाना, गढ़ी हकीकत, कारेवाड़ी, बड़वासनी, हुल्लाहेड़ी और डेरा), रोहतक के 5 (कलिंगा, ककराना, बलियाना, घिल्लोर कलां और घिल्लोर खुर्द), और पानीपत (सिमला), झज्जर (माजरा) व कैथल (हजवाना) जिले के एक-एक गांव शामिल हैं। ‘म्हारा गांव जगमग गांव’ योजना के तहत अब प्रदेश के 5287 गांवों को 24 घंटे बिजली आपूर्ति मिल रही है। वर्तमान में प्रदेश के 75 प्रतिशत गांवों को पूरी तरह जगमग किया जा चुका है तथा इससे प्रदेश के 10 जिले जिनमें पंचकूला, अंबाला, कुरूक्षेत्र, यमुनानगर, करनाल, गुरूग्राम, फरीदाबाद, सिरसा, रेवाड़ी और फतेहाबाद शामिल है, जहां 24 घंटे बिजली उपलब्ध है।
इस संबंध में जानकारी देते हुए बिजली निगम के प्रवक्ता ने बताया कि ‘म्हारा गांव जगमग योजना’ की शुरूआत 1 जुलाई, 2015 को कुरूक्षेत्र जिले के दयालपुर गांव से मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल द्वारा की गई। इस योजना के तहत ग्रामीणों से बकाया बिजली बिलों का भुगतान करने, बिजली चोरी रोकने बारे आग्रह किया गया, जिसके फलस्वरूप जिन ग्रामीण फीडरों का लाइन लोस कम होता है उन गांवों को चिन्हित करके 24 घंटे निर्बाध बिजली आपूर्ति शुरू कर दी जाती है।
उन्होंने आगे बताया कि ’म्हारा गांव जगमग गांव’ योजना का कार्य तीव्र गति से चल रहा है ताकि शेष बचे गांवों को जल्द ही इस योजना में शामिल करके संपूर्ण प्रदेश को जगमग किया जा सके। इस योजना से प्रदेश के ग्रामीण उपभोक्ताओं में बिजली बिलों का समय पर भुगतान करने, बिजली चोरी रोकने में और बिजली निगम के कर्मचारियों के साथ सहयोग करने की दिशा में सकारात्मक परिवर्तन आया है। यह सब बिजली निगम के तकनीकी और गैर-तकनीकी कर्मचारियों की कठिन परिश्रम और ईमानदारी से ही संभव हो पाया है। बिजली निगम अपने सभी उपभोक्ताओं को निर्बाध व निरंतर बिजली आपूर्ति उपलब्ध करवाने के लिए वचनबद्ध है।


Source

What do you think?