in

हरियाणा सरकार द्वारा राज्य में इंजेक्शन एम्फोटेरिसिन-बी के वितरण के संबंध में जा…


हरियाणा सरकार द्वारा राज्य में इंजेक्शन एम्फोटेरिसिन-बी के वितरण के संबंध में जारी दिशानिर्देशानुसार मरीजों के इलाज के लिए इंजेक्शन एम्फोटेरिसिन-बी की आवश्यकता वाले सभी कोविड अस्पतालों को इस इंजेक्शन के वितरण के लिए गठित की गई विशेषज्ञ समिति को ई-मेल [email protected] पर रोजाना प्रात: 9 बजे से पहले आवेदन करना होगा।
एक सरकारी प्रवक्ता ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि इंजेक्शन एम्फोटेरिसिन-बी राज्य में सार्वजनिक/निजी संस्थानों में व्यक्तिगत रोगी के लिए उपलब्ध है।
उन्होंने बताया कि इंजेक्शन एम्फोटेरिसिन-बी के लिए निर्धारित प्रफार्मा में आवेदन करना होगा। प्रोफार्मा के बिना या अपूर्ण प्रोफार्मा के आवेदन पर विचार नहीं किया जाएगा। प्रोफार्मा पर इलाज कर रहे चिकित्सक द्वारा विधिवत हस्ताक्षर किए जाने चाहिए और संस्थान के एमएस द्वारा प्रतिहस्ताक्षरित होना चाहिए। उपचार कर रहे चिकित्सक को यह सुनिश्चित करना होगा कि लैब परीक्षणों और रोगी की स्थितियों के तुलनात्मक मूल्य को दर्शाने वाली जानकारी भारत सरकार/आईसीएमआर के अनुमोदित उपचार प्रोटोकॉल के अनुसार इंजेक्शन का उपयोग को उचित ठहराती हो।
तकनीकी समिति की बैठक दिन में एक बार (छुट्टियों सहित) दोपहर 12:00 बजे होगी और आवेदन करने की प्रक्रिया, भरे जाने वाले प्रोफार्मा, सिविल सर्जनों के पास एसकेएस खाते में भुगतान जमा करने की प्रक्रिया और इंडेंटिंग अस्पताल को इंजेक्शन जारी करने से संबंधित जानकारी स्वास्थ्य विभाग, हरियाणा की वेबसाइट पर उपलब्ध होनी चाहिए। अस्पताल को केवल आधिकारिक ई-मेल [email protected] पर आवेदन करना होगा। समिति के सदस्यों/अधिकारियों के व्यक्तिगत ई-मेल पर या उनके मोबाइल नंबरों पर व्हाट्सएप द्वारा कोई अनुरोध नहीं भेजा जाना चाहिए।
अस्पताल अपने पास भर्ती सभी रोगियों के लिए व्यक्तिगत रूप से प्रत्येक मामले के लिए पूरी तरह से भरे हुए प्रोफार्मा के साथ प्रत्येक दिन एक ई-मेल भेजेगा, जिन्हें इंजेक्शन एम्फोटेरिसिन-बी की आवश्यकता है। ई-मेल प्रतिदिन सुबह 9:00 बजे से पहले पहुंच जाना चाहिए। इंजेक्शन स्वीकृत होने और रोगियों पर उपयोग किए जाने के बाद, मांगकर्ता अस्पताल को प्रत्येक मामले का उपयोग प्रमाण पत्र देना होगा और प्रत्येक मामले (उन्नत / यथास्थिति / गिरावट / मृत्यु / कोई अन्य)के परिणाम का उल्लेख करना होगा । यह जानकारी इंजेक्शन जारी होने के 10 दिनों के भीतर और बाद में उपचार पूरा होने के बाद संबंधित सीएस कार्यालय / जिले के नोडल व्यक्ति को भेजनी होगी। इससे मामले के चयन और रोगियों पर इंजेक्शन एम्फोटेरिसिन-बी के चिकित्सीय लाभ की समीक्षा करने में मदद मिलेगी।


Source

What do you think?