in

हिसार जिले से जुडी कुछ रोचक बाते

इसमें कोई शक नहीं की हरयाणा राज्य भारत देश का एक जाना माना राज्य है व इसी के साथ आपको यहां 22 बेहद खास जिले देखने को मिलते है। यह जिले, अपने आप में विभिन्न बातो के लिए जाने जाते है। अब बात करते है हरियाणा के जिले हिसार की। तो, हिसार हरियाणा का एक खूबसूरत व विकसित शहर है व यह जिला विभिन्न बातो के लिए जाना जाता है।

यहाँ के कॉलेज, स्कूल, बाजार, इतिहासिक जगह, आदि काफी अच्छी है, जो आपकी विभिन्न क्षेत्र में विभिन्न रूप में सहायता करती है। यहां की जीवन शैली भी वाकई देखने लायक है। तो आज इस लेख में हम बात करने जा रहे है, हिसार जिले से जुड़े कुछ रोचक तथ्यों की। तो समय लीजिये और चलिए इस सम्पूर्ण लेख के साथ।

#1 हिसार की स्थापना

बात करे यदि हिसार शहर की स्थापना की तो वाकई इतिहास के पन्नो में हिसार की स्थापना रोचक रही है। हिसार शहर की स्थापना एक मुस्लिम शासक फिरोजशाह तुगलक ने 1354 ई. में की थी। 'हिसार' एक अरबी शब्द है जिसका अर्थ है 'किला'।

जिस शहर को हम आज 'हिसार' के नाम से जानते हैं, उसे मूल रूप से 'हिसार फिरोजा (हिसार-ए-फिरोज भी) या दूसरे शब्दों में 'फिरोज का किला' कहा जाता था। इसके साथ ही फिरोज शाह तुगलक ने इस नये नगर हिसार-ए-फिरोजा को महलों, मस्जिदों, बगीचों, नहरों और अन्य इमारतों से सजाया था। लेकिन जैसे-जैसे दिन बीतते गए, 'फ़िरोज़ा' शब्द अपने मूल नाम से हटा दिया गया।

#2 हिसार शहर से जुड़े पर्यटक स्थल

इसमें कोई शक नहीं की हिरयाणा में विभिन पर्यटक स्थल है परंतु यदि बात करे हिसार जिले की तो यहां भी काफी रूचि स्थल है, जहां आप जा सकते है। सबसे पहले हम बात करते है अग्रोहा धाम की। माना जाता हैं की अग्रोहा किसी समय महाराजा अग्रसेन के राज्य की राजधानी था। साथ ही यह नगर अत्यंत सुसमृद्ध और सम्पन्न था, लेकिन कालान्तर में यह विदेशी आक्रमणों से नष्ट हो गया था।

आज अग्रोहा धाम एक धार्मिक एवं दर्शनीय स्थल के रूप में विकसित हो चुका है। इसकी देखरेख एवं विकास अग्रोहा ट्रस्ट द्वारा की जाती है। यहां धार्मिक मंदिर बने हुए है व साथ ही मनोरंजन हेतु नौका विहार एवं बच्चों के लिए आधुनिक झूले अदि है। इसके साथ ही आप हिसार जिले की विभिन्न जगह पर गुजरी महल, पृथ्वी राज का किला, बरसी गेट, आदि देख सकते है।

#3 हिसार की महत्त्वपूर्ण संस्थायें

हिसार जहां इतिहास के पन्ने जोड़े हुए है वही इस जिले में आपको काफी महत्त्वपूर्ण संस्थायें भी देखने को मिलती है। जैसे की हम नाम ले सकते है, भव्य चार मंजिला लघु-सचिवालय भवन का, जिसका निर्माण सन् 1978 में किया गया। दूसरा यहां राष्ट्रीय अश्व अनुसंधान केन्द्र, केन्द्रीय भैंस अनुसंधान संस्थान, उत्तरी प्रादेशिक फार्म मशीनरी प्रशिक्षण एवं जांच संस्थान, विज्ञान, प्राद्योगिकी, कृषि व चिकित्सा शिक्षा,

चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय, गुरू जम्भेश्वर विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, लाला लाजपत राय पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान विश्वविद्यालय, के साथ साथ हरियाणा अन्तरिक्ष अनुप्रयोग केन्द्र अन्य कई महत्वपूर्ण संस्थाए है।

#4 औद्योगिक क्षेत्र

हिसार शिक्षा के स्तर में जहां नाम कमाए बैठा है वही हिसार में इतिहासिक पन्ने भी मिलते है। अब यदि बात करे हम हिसार के औद्योगिक क्षेत्र की तो आधुनिक युग में हिसार नगर औद्यौगिक क्षेत्र में उत्तरी भारत के ‘स्टील सिटी’ के नाम से जाना जाता है। जी हाँ, आपका हिसार शहर आज की दुनिया में स्टील सिटी के नाम से विख्यात है।

इसके साथ ही यहां के उद्योगों में कपास की ओटाई, हथकरघा बुनाई और कृषि यंत्रों व सिलाई मशीनों के निर्माण से जुड़े उद्योग शामिल हैं। यहाँ पर कपास, अनाज और तेल के बीजों का बड़ा बाज़ार है व इन बाज़ार के लिए यह बहुत प्रसिद्ध है। जो वाकई यहां के लोगो के लिए गर्व की बात है।

#5 जानीमानी हस्तिया

हिसार जिले का वाकई हरियाणा में एक नाम है व  यदि हम बात करे हिसार जिले से जुडी जानीमानी हस्तियों के बारे में, तो आप यहां काफी नाम देख सकते है।  जिनमे, भजनलाल - हरियाणा के भूतपूर्व मुख्यमंत्री, अरविंद केजरीवाल - दिल्ली के मुख्यमंत्री, कुलदीप बिश्नोई- बिश्नोई महासभा संरक्षक,सुभाष चन्द्रा- राज्यसभा सदस्य।

वही यदि बात करे खिलाड़ियों की तो हम नाम ले सकते है साइना नेहवाल, गीतिका जाखड़, ललिता सहरावत आदि का। इसके साथ ही हिसार के कुछ जाने माने व्यवसाई भी है जिनमे नवीन जिंदल व सुभाष चंद्रा का नाम देखने को मिलता है।  

This post was created with our nice and easy submission form. Create your post!

What do you think?