ब्रिटिश खिलौनों का बहिष्कार (4/5)

इंदिरा गांधी भारत की एक जानी मानी व महान हस्ती है। अब यदि बात करे उनके बचपन की तो जब उन्होंने अपने पिता और संपूर्ण राष्ट्र को ब्रिटिश साम्राज्यवाद के खिलाफ संघर्ष करते देखा तो इंदिरा को महसूस हुआ कि उनके वह खिलौने जो कि ब्रिटिश में बनते हैं उनकी अर्थव्यवस्था को ताकतवर बना रहे है।

उन्होंने बचपन में ही ब्रिटिश सामानों का बहिष्कार करना सीख लिया था। वह अपने स्वयं के खिलौने जो इंग्लैंड में बने थे उन्हें जलाने के लिए जानी जाती है।