2. सावनी या खरीफ फसल (5/9)

अब हम बात करते हैं सावनी या खरीफ फसल की तो सावनी या खरीफ फसल हरियाणा की दूसरी फसल है।  जिसमें चावल ज्वार बाजरा मक्का और कपास है व यह सावनी अथवा खरीफ के नाम से जानी जाती है। यह फसल भी हरियाणा के लिए काफी मायने रखती है व मुख्य फसलों में से एक कहलाती है। 

यह फसलें मानसून की पहली जोरदार बौछार के उपरांत जुलाई के आरंभ में बोई जाती है और लगभग सितंबर के अंत तक काट ली जाती है।