Dark Mode
Sunday, 17 January 2021
Logo
गुरुनाम सिंह चढूनी ने ही कराया था मुख्यमंत्री के किसान संवाद कार्यक्रम में हंगामा

गुरुनाम सिंह चढूनी ने ही कराया था मुख्यमंत्री के किसान संवाद कार्यक्रम में हंगामा

करनाल के कैमला गांव में कृषि बिल के समर्थन में हो रहे मुख्यमंत्री के किसान-संवाद कार्यक्रम में उपद्रव करने का पूरा जिम्मा बीकेयू के नेता गुरुराम सिंह चढूनी ने लिया है उन्होंने कहा है कि मुख्यमंत्री किसान आंदोलन को विफल करने के लिए इस प्रकार के कार्यक्रमो का आयोजन कर रहे हैं उन्होंने कहा अगर आगे भी मुख्यमंत्री इस प्रकार का कोई आयोजन या फिर रैली करते हैं तो वे इसमें दखल डालते रहेंगे उनका कहना है कि भाजपा इस प्रकार के कार्यक्रमो से आंदोलन को तोड़ना चाहती है।

शाम को मीडिया पत्रकारों से बातचीत करते हुए सीएम मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि किसानों में कृषि बिल को लेकर संशय की स्थिति बनी हुई है इसी को दूर करने के लिए वे किसानों की सहमति पर यह कार्यक्रम कर थे ।परन्तु कुछ लोगो ने उनके कार्यक्रम स्थल पर पहुंचने से पहले ही अपनी असहमति दिखा कर नारेबाजी शुरू कर दी गई जिसके कारण सुरक्षा के लिहाज से उनका हेलीकॉप्टर भी दूसरी जगह पर उतारा गया ।उन्होंने आगे कहा कि सभी को अपनो अभिव्यक्ति प्रकट करने का पूर्ण अधिकार है किसी भी चीज के लोग समर्थन में भी होते हैं और विरोध में भी समर्थन और विरोध को बातचीत के माध्यम से ही सुलझाया जा सकता है इस प्रकार की हरकत करने बाली पार्टीयों को लोग इसका जबाब जरूर देंगे। सीएम ने आगे बताया कि रैली में लगभग 5000 किसान इस बिल के समर्थन में आये हुए थे प्रदर्शन करने बालो ने इन किसानों का भी विरोध किया था उनका कहना है कि उनको किसानों की बयानबाजी और उनके चल रहे आंदोलन से कोई परहेज नही है लेकिन सभी को अपनी बात रखने का अधिकार है।

Comment / Reply From