Dark Mode
Thursday, 21 January 2021
Logo
बीजेपी को तगड़ा झटका, आंवला और सोनीपत में पिछड़ी बीजेपी - जेजेपी

बीजेपी को तगड़ा झटका, आंवला और सोनीपत में पिछड़ी बीजेपी - जेजेपी

किसान आंदोलन के बीच हरियाणा नगर निगम चुनाव में बीजेपी - जेजेपी को तगड़ा झटका लगा। नगर निगम के चुनावों में सत्तारूढ़ गठबंधन को सोनीपत और आंवला की मेयर की सीट से हाथ धोना पड़ा है। उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला की पार्टी जननायक जनता पार्टी हिसार के उकलाना और रेवारी के धरुहेरा में अपने घर के मैदान में चुनाव हार गई है। यह बड़ा झटका गठबंधन के राज्य के चुनावों के अगले साल ही सहना पड़ रहा है।

आंवला में शक्ति रानी बनी पहली महिला मेयर

वही आंवला में पूर्व केंद्रीय मंत्री विनोद शर्मा की पत्नी जिनका नाम शक्ति रानी है, उन्होंने मेयर पद पर जीत हासिल की है। उन्होंने भाजपा की प्रत्याशी डॉ. वंदना शर्मा को 8084 मतों से हराया। आज हुई मतगणना के अनुसार ,महिलाओं के लिए आरक्षित आंवला से 37,604 वोट शक्ति रानी शर्मा को मिले , जबकि वंदना शर्मा को 29,520 वोट ही मिल सके। आंवला में पार्षद की 20 सीटों में से भाजपा को 8 सीटों पर जीत मिली। कांग्रेस को 3, हरियाणा जन चेतना पार्टी को 7 और हरयाणा डेमोक्रेटिक फंड को दो सीटें मिली।


सोनीपत के पहले मेयर बने कांग्रेस के निखिल मदान

कांग्रेस के निखिल मदान सोनीपत की पहले मेयर बन गए हैं। उन्होंने भाजपा की ललित बत्रा को पटखनी दी Iऔर 13,818 मतों से जीत दर्ज की है हालांकि सोनीपत में परिषद चुनाव में भाजपा को संजीवनी मिली है। 20 में से भाजपा के 10 परिषद बने ,9 पर कांग्रेस का कब्जा हुआ था । एक परिषद निर्दलीय चुना गया। सोनीपत में बरोदा के बाद भाजपा को लगातार दूसरी हार मिली । वहीं जजपा ने 5 वार्ड से चुनाव लड़ा था , सभी पर उसे हार मिली।

Comment / Reply From